Thursday, December 31, 2009

जाको रखे साइयाँ, मारि सकै ना कोय........



बाबा नंगलाल जन्म से ही मेधावी और पराक्रमी  प्रकार के जीव 


थे।  रंगलाल की पत्नी श्रीमती संगलाल ने जब उन्हें एक शिशु के

रूप में विधिवत जन्म दिया था तब उन्होंने अपनी   दोनों मुट्ठियाँ

कस कर बाँधी हुई थीं । डाक्टरों द्वारा कोई चार घण्टे की जद्दोजहद

के बाद कहीं उस बालक की मुट्ठियाँ खुलीं तो रंगलाल की आँखें

फटी की फटी रह गईं क्योंकि 


बालक की एक मुट्ठी में थी i pill

और दूसरी मुट्ठी में लिखा था :

जाको रखे साइयाँ, मारि सकै ना कोय


 जय हिन्द !






Wednesday, December 30, 2009

पुलिंग या स्त्रीलिंग ?




रंगलाल
का बेटा नंगलाल

स्कूल से आते ही अपने बाप के पास पहुंचा


नंगलाल - पापा !

बच्चे का जन्म लेना पुलिन्ग होता है कि स्त्रीलिंग ?


रंगलाल - बहुत सिम्पल है बेटा !

लड़का पैदा हो तो पुलिंग और लड़की पैदा हो तो स्त्रीलिंग


नंगलाल - तब तो ठीक है, मैं रज्जू के घर जा रहा हूँ उसकी

बहन पैदी हुई है ...................हा हा हा हा


-अलबेला खत्री
आज रात 10 बजे

स्टार वन पर

अलबेला खत्री और अभिजीत सावंत का धमाल

देखना ना भूलें

LAUGHTER KE PHATKE

लाफ़्टर के फटके एक बार फिर हाज़िर है......

Monday, December 28, 2009

आम जनता की शुभकामना- 2010 के लिए








आम जनता की शुभकामना- 2010 के लिए



तर्ज़ : हम सब को नेक राह चलाना
मेरे अल्लाह

फ़िल्म : दादा



दुनिया को स्वाइन फ्लू से बचाना मेरे अल्लाह

दिल्ली को लाइन ब्लू से बचाना
मेरे अल्लाह

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना





सन 2 0 1 0
की हैं शुभकामना यही

अन्तर्हृदय से आ रही है भावना यही

बंगाल में अब कोई नंदीग्राम हो ना पाय

बिहार में फिर कोसी कोहराम ना मचाय



महाराष्ट्र में फिर बर्ड फ़्लू बीमारी न फैले

उत्तर प्रदेश में नया निठारी ना मिले

गुज़रात में फिर गोधरा सी आग ना लगे

खादी पे व खाकी पे कोई दाग़ ना लगे

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना





सब्ज़ी हो इतनी सस्ती के सब लोग खा सकें

मिलती रहे अब गैस कि रोटी पका सकें

विद्युत कटौती से कहीं अन्धकार हो

नल में रोज़ाना सुबहो-शाम जल की धार हो



पम्पों पे अब पानी मिला पेट्रोल मिले

किरयाणे की दुकानों पे कम तौल मिले

घी, तेल, दूध, मावा में हों मिलावटें

केला हमें मुफ़्त मिले एप्पल के साथ में

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना



नींदें हमारी रातों की मच्छर ले उड़ें

शैम्पू से नहायें तो सर के बाल झड़ें

बस में या ट्रेन में हमारी जेब कटे

पूरे बरस में दो से ज़्यादा पैन्ट फटे



पूंजी बाज़ार में कोई दुर्घटना घट जाए

सेन्सेक्स इतना गिरे कि अर्थियां उठ जाएं

फिल्मों का सेन्सर बोर्ड कहीं ढीला हो जाए

सिनेमा का सफ़ेद पर्दा कहीं नीला हो जाए

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना



अडवाणी और अटल में यों ही दोस्ती रहे

मायावती-मुलायम सिंह को कोसती रहे

मोहन की मुरली सोनिया बजाती चली जाये

ममता भी रेल हादसों पे ब्रेक अब लगाए



धोनी क्रिकेटर ही रहें, एक्टिंग में नहीं जाय

सहवाग और युवराज सबके छक्के छुड़ाय

तेन्दुलकर सन्यास न ले, खेलता ही जाय

अगला वर्ल्ड कप हमारा इण्डिया जीत जाय

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना




सल्लू को कोई परमानेंट सल्ली मिल जाय

करीना को भी अब कहीं तसल्ली मिल जाय

किंग खान को अमेरिका में न अब कोई सताय

हिमेश कहीं से भी गाए, मीठे सुर लगाय



सानिया जो चाहे पहने, कोई उंगली न उठाय

ऐश्वर्या अभिषेक को जल्दी पिता बनाय

भारत की एकता को कोई नज़र लगाए

पर एकता कपूर से मालिक हमें बचाए

अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना




अब ख़ुदकुशी कहीं कोई किसान करे

नकली शराब पीने से इन्सान मरे

बच्चों की जिद्द माँ-बाप को हैरान करे

घरवाली रोज़-रोज़ परेशान करे



थानों में पुलिस वाले ज़ुल्म ढाना छोड़ दें

श्री देवानंदजी फ़िलिम बनाना छोड़ दें

सब लोग पीयें, खायें, नाचें करें धमाल

हँसते-हँसाते गुज़रे अबके सबका पूरा साल


अल्लाह रहम करना

मौला तू करम करना


-अलबेला खत्री


watch & enjoy

laughter ke phatke

by albela khatri & abhijeet sawant

new year special episod on STAR ONE

31 dec. 2009 10 P.M.



Saturday, December 26, 2009

ये गदहा ख़ुद ही दे देगा

रंगलाल का बेटा नंगलाल इक गदहे के साथ खिलवाड़ कर रहा था


बेटा - पापा ! अगर मैं इसकी पीछे वाली दोनों लातें पकड़ लूँ

तो आप क्या इनाम देंगे ?


बाप - मुझे देने की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी बेटा !

ये गदहा ख़ुद ही दे देगा ....हा हा हा हा


enjoy laughter ke phatke

new year special

performing by

albela khatri & abhijit sawant

on STAR ONE 31 DEC.10 P.M.




Friday, December 25, 2009

एक फोन कर दिया होता ...




चर्च में नियमित आने वाली इक सुन्दर और बिन्दास कन्या को देख

एक पादरी ने उससे कहा - "कल क्रिसमस की रात मैंने

तुम्हारे लिए बहुत प्रार्थना की ।"


"प्रार्थना की क्या ज़रूरत थी ? एक फोन कर दिया होता ...

मैं जाती" कन्या ने हैरत से कहा


laughter ke phatke में अब देखिये
हास्य कवि अलबेला खत्री और

indian idol अभिजीत सावंत की जुगलबन्दी
31 दिसम्बर की रात 10 बजे star one पर




बोल प्यारे ! तुझे क्या गिफ़्ट चाहिए ?




नंगलाल - पापा ! बड़ा आदमी किसे कहते हैं ?


रंगलाल - बेटा, बड़ा आदमी वो होता है जो क्रिसमस की रात

सांताक्लोज़ को गोद में उठा कर उसकी पप्पी ले और पूछे कि

बोल प्यारे ! तुझे क्या गिफ़्ट चाहिए ?



Thursday, December 24, 2009

बहुमत तो नंगलाल के साथ है .........




रंगलाल का बेटा नंगलाल परीक्षा में फेल हो गया

तो रंगलाल ने पूरे मोहल्ले में मिठाई बांटी


लोगों ने हैरत से पूछा- रंगलाल !

तुम्हारा नंगलाल तो फेल हुआ है

फिर तुम मोहल्ले में मिठाई क्यों बाँट रहे हो ?


रंगलाल बोला - फेल-पास से क्या मतलब है बेवकूफों !

इसकी क्लास में कुल 90 विद्यार्थी हैं जिनमे से 50 फेल हो गये,

यानी बहुमत तो मेरे नंगलाल के साथ ही है ....हा हा हा हा


Sunday, December 20, 2009

नंगलाल जब अपनी कक्षा में प्रथम आया ......




रंगलाल का बेटा नंगलाल

जब अपनी कक्षा में प्रथम आया

तो प्रिन्सीपल ने

उसे शाबासी देने के लिए अपने पास बुलाया

और कहा- बेटे प्रतिज्ञा करो

कि अगली बार भी कक्षा में तुम्हीं प्रथम आओगे

नंगलाल बोला - गुरूजी आप भी प्रतिज्ञा करो

कि अगली बार भी परीक्षा पत्र

मेरे पिताजी की प्रेस में ही छपवाओगे



Saturday, December 19, 2009

रंगलाल का सकारात्मक नज़रिया .........



रंगलाल का बेटा नंगलाल रोता हुआ आया ।

"क्या हुआ बेटा ? क्या हुआ ? रो क्यों रहा है ? " बाप ने पूछा ।

" राजू ने मुझे गाली दी........." बेटा बोला ।

"तो रोता क्यों है पगले ? कुछ दिया ही है ना, लिया तो नहीं कुछ ! "

बाप ने मुस्कुरा कर कहा ।

Thursday, December 17, 2009

नंगलाल आज बड़ा खुश था




रंगलाल का बेटा नंगलाल आज बड़ा खुश था । स्कूल में उसे आज

दो मैडल मिले थे, एक सिल्वर एक गोल्डन । घर आया तो बाप

वे मैडल देख कर से झूम उठा ।


रंगलाल - बेटा नंगलाल शाबास ! कमाल कर दिया, एक ही दिन में

दो दो मैडल ! अच्छा बताओ, सिल्वर मैडल काहे के लिए मिला ?


नंगलाल - गाना गाने के लिए..............

रंगलाल - और गोल्डन ?


नंगलाल - भविष्य में कभी गाना नहीं गाने के लिए....हा हा हा हा

ये सुन कर रंगलाल भी रोने लगा..........




रंगलाल का बेटा नंगलाल रो रहा थाबुक्का फाड़ फाड़ कर

रो रहा थाबाप ने रोने का कारण पूछा तो उसने कहा- मैं

जब भी बाहर जाने लगता हूँ तो मम्मी मना कर देती है कि

अभी छोटा है, बाहर मत जा, अभी छोटा है बाहर मत जा ...

मैं इतना बड़ा कब होऊंगा जब मम्मी से पूछे बिना बाहर जा

सकूँगा ?



ये सुन कर रंगलाल भी रोने लगाबोला - बेटा ! इत्ता बड़ा तो

अभी मैं भी नहीं हुआ हूँ .................हा हा हा हा




# enjoy albela khatri as a neta
TONIGHT - 17 DEC.at 10 P.M.
ON STAR ONE
in laughter ke phatke



Wednesday, December 16, 2009

बाथरूम के बारह सीन है...........



रंगलाल - बेटा ! तू जो फ़िल्म देखने जा रहा है,

क्या वह साफ़-सुथरी है क्लीन है ?

नंगलाल
- हाँ पापा ! बेहतरीन है

इस
में इंटरवेल के पहले ही बाथरूम के बारह सीन है





# LAUGHTER KE PHATKE

WITH
HASYA KAVI ALBELA KHATRI &

VOICE
OF INDIA AABHAAS


- 17 DEC. 10.00 P.M. ON STAR ONE



Tuesday, December 15, 2009

कन्या की माँ को ही मांग लूँगा..........



रंगलाल का बेटा नंगलाल

जब जवान हुआ और शादी के लिए

कन्या देखने अपने भावी ससुराल जा रहा था तो

बाप ने उसे समझाने की कोशिश की.................


रंगलाल - बेटा , लड़की देखने जा रहा है, ध्यान रखना...

वहाँ लेन-देन की बात भी होगी.....कोई बड़ी चीज ही मांगना,

तो कहीं जा के ठीक ठाक मिलेगीजैसे तुझे मारुती कार चाहिए

तो हेलिकौप्टर मांगना...तब कहीं कार मिलेगी, अगर कार मांगेगा

तो स्कूटर ही मिलेगा ,,,समझा ?


नंगलाल - समझ गया पापा ! ससुराल जा के कन्या की माँ को ही

मांग लूँगा, तब कहीं जा के कन्या मिलेगी..............हा हा हा हा



Monday, December 14, 2009

आजकल तो दिन में भी आजाते हैं खून पीने.....



रंगलाल का बेटा नंगलाल आज मच्छरों से परेशान था


नंगलाल - पापा....पहले तो मच्छर सिर्फ़ रात को काटते थे लेकिन

आजकल तो दिन में भी आजाते हैं खून पीने.........ऐसा क्यों ?


रंगलाल - क्या बताएं बेटा ! महंगाई इतनी बढ़ गई है कि तेरे बाप की

तरह सभी को ओवर टाइम करना पड़ता है.........



Sunday, December 13, 2009

गब्बर आएगा तब सो जाऊँगा ....



रंगलाल का बेटा नंगलाल सो नहीं रहा था

बाप ने डराते हुए कहा

- सोजा बेटा सोजा ! नहीं तो गब्बर जाएगा

बेटा भी कम नहीं था

बोला - आप चिन्ता करें....गब्बर आएगा तब सो जाऊँगा ....



Friday, December 11, 2009

कन्धे पे बिठालो, अभी चुप हो जाएगा




मैंने कहा ,

"गुड्डू की माँ !

ये गुड्डू हद कर रहा है.......

गधे पे बैठने की जिद कर रहा है ..."

वो बोली,

" तो क्या हो जाएगा,

कन्धे पे बिठालो,

अभी चुप हो जाएगा " हा हा हा हा .....





ढाबे में बैठे सभी लोग ज़ोरों से हँस पड़े



बहुत साल पहले की घटना है


मैं और मेरा एक दोस्त, हम दोनों देवी दर्शन की यात्रा पर थे

एक दिन चंडीगढ़ के आस पास राज मार्ग पर, ढाबे में चारपाई पर

बैठ कर खाना खा रहे थेमुझे पानी पीना था और कई बार मांग

चुका था लेकिन सर्विस करने वाला ध्यान ही नहीं दे रहा था..जब

मुझसे रहा गया तो मैं ज़ोर से चिल्लाया :


_ ओय ढाबे दा मालक कौन है ओय ?

_ मैं हैगां ...क्यों की गल ?

_ एत्थे आओ..तां दस्सां ...मैंने कहा

_ बोल लाले क्यों रोला पाया ? सेठ ने पूछा


मैंने कहा " कोई रोला नी पाया , तुस्सी एत्थे खड़े रह के मेरी प्लेट दा

ख्याल रक्खो ! मैं सामने नलके तों पानी पी के आन्दा हाँ ...

ढाबे में बैठे सभी लोग ज़ोरों से हँस पड़े..सेठ के साथ साथ उसका

स्टाफ भी हँसा......और असर ये हुआ कि सेठ पानी ख़ुद ले कर आया...


हा हा हा हा हा हा हा

Wednesday, December 9, 2009

रायपुर-भिलाई ब्लोगर्स पिकनिक के अन्दर की बात



31 नवम्बर की रात 3 बजे रायपुर में सम्पन्न छत्तीस गढ़

ब्लोगर्स मीटिंग में एक शानदार पिकनिक मनाने का

निर्णय लिया गया जिसमे केवल वही ब्लोगर्स शामिल हो

सकेंगे जिन्हें अपनी हर पोस्ट पर कम से कम तीन बेनामी

टिप्पणियां मिलती हैं और ब्लोग्वानी पर कम से कम

8 पसन्द



मीटिंग की सर्वाधिक गोपनीय बातें :


अनिल पुसदकर - बीअर, वोदका, व्हिस्की का इन्तेज़ाम मैं कर दूंगा..........

बी एस पाबला - लस्सी मैं ले आवांगा.............

शरद कोकस - रसमलाई मेरी तरफ़ से............

राजकुमार ग्वालानी - समोसे और कचौरियां मेरे जिम्मे.......

गगन शर्मा - फ्रूट सलाद मेरा.....

जी के अवधिया - बिसलेरी के कार्टून मैं ले आऊंगा

डॉ महेश सिन्हा - पेपर नेपकिन

संजीव तिवारी - हाजमोला मेरी तरफ़ से........

अनिल पुसदकर - आप चुप क्यों बैठे हो ललितजी ?

ललित शर्मा - चुप नई बैठ्या स्यूं ..सोच रह्या स्यूं के इतना अड़ंगा

खाने पीने के लिए गाँव से कितने लोग ले कै आऊं....

हा हा हा हा हा हा हा




Labels

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 

Followers

Blog Archive