Thursday, May 13, 2010

नंगलाल को लू लग गई




रंगलाल के बेटे नंगलाल को लू लग गई

और लू के चलते दस्तें लग गईं........

डाक्टर - बोलो........क्या तकलीफ है ?

रंगलाल - जी मेरे बेटे को दस्तें लग रही हैं पतली पतली.......

डाक्टर - पतली ...कितनी पतली ?

रंगलाल - पतली पतली जी.............

डाक्टर - हाँ हाँ लेकिन कितनी पतली ?

इतनी पतली डाक्टर साहेब कि आप चाहें तो उन से

कुल्ले कर सकते हैं


अब की बार नंगलाल ने जवाब दिया



7 comments:

kunwarji's said...

aage to bataao sir ji.....
doctor ne ye baat parkhi ya nahi....

asali romaanch abhi aaya tha..

kunwar ji,

nilesh mathur said...

हा, हा, हा, हा, हा, हा, हा, हा......मैं सोच रहा हूँ डाक्टर का क्या हाल हुआ होगा!

दिलीप said...

thoda ajeeb laga...eww...par maza bhi aaya...

राज भाटिय़ा said...

अब यह डा० दोवारा किसी से नही पुछेगा..... हीईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईई

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

दोनों को लीची का शर्बत पिलाइएगा!

शिवम् मिश्रा said...

राम राम राम !!
बहुत अच्छा हुआ मैं डाक्टर नहीं बना !!

सैयद | Syed said...

:)

Labels

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 

Followers

Blog Archive