Tuesday, November 3, 2009

कण्डोम कम्पनी का मालिक V/S ग्राहकों की शिकायतें


लाला रंगलालजी


अपने
मुहल्ले के पचास बच्चों
समेत

ट्रेन
में यात्रा कर रहे थे


किसी ने मज़ाक में पूछ लिया

- क्या ये सब बच्चे आपके हैं ?

लाला रंगलालजी बोले - नहीं भाई,

मैं तो एक कण्डोम कम्पनी का मालिक हूँ ,

ये सब तो हमारे ग्राहकों की शिकायतें हैं

_________हा हा हा हा हा हा हा

6 comments:

राज भाटिय़ा said...

अजी पुराने ओर वरते हुये ओर लिकेज माल बेचेगा तो यही होगा:)

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

:)

शिवम् मिश्रा said...

कस्टमर केयर यही है क्या ??

Udan Tashtari said...

हा हा!!

जी.के. अवधिया said...

यहाँ भी नकली माल? :-)

डॉ टी एस दराल said...

यानि बिका हुआ माल वापस --

Labels

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 

Followers

Blog Archive