Thursday, October 15, 2009

इक चराग-ए-मोहब्बत जला लीजिये.......

जल रहा है चमन

जल रहा है वतन

हो सके तो अमन को बचा लीजिये........


बुझ पाये जो

तूफ़ानो-आँधी में जो

इक चराग--मोहब्बत जला लीजिये.......

दीपोत्सव

की हार्दिक बधाइयाँ

एवं

नूतन वर्षाभिनंदन !

_______अलबेला खत्री

11 comments:

परमजीत बाली said...

शुभदीपावली!!

समयचक्र - महेंद्र मिश्र said...

आपको और आपके परिवारजनों को दिवाली की हार्दिक शुभकामनाये .

M VERMA said...

बहुत बहुत बधाई

nisha agarwaal said...

aap ko bhi
happy deepavli albelaji.
naya saal mubaarak

राज भाटिय़ा said...

आप को ओर आप के परिवार को दिपावली की शुभकामनाये

शिवम् मिश्रा said...

आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं !

Udan Tashtari said...

बढ़िया और आभार.

सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

-समीर लाल ’समीर’

सुलभ सतरंगी said...

प्रकाशपर्व मंगलमय हो!
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
आपको दीपावली की शुभकामनायें !!
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

maadhav b jain said...

nice poem

bimla sahu said...

deepavli ki badhaai aapko bhee aur apke parivaar ko bhee kaviraj

aap sadaa un hi hame lubhate raho..kaveeta en sunate raho

-bimlaa sahu

राजीव तनेजा said...

आपको भी बहुत-बहुत बधाई

Labels

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 

Followers

Blog Archive